पत्र लेखन हिंदी | Patra Lekhan

पत्र लेखन हिंदी | Patra Lekhan

पत्र  लेखन एक कला है। अपने दूरस्थ संबंधियों तथा मित्रों से अपने मन की बातसकता है, जिसकी भाषा सरल और भाव स्पष्ट हों। इतिहास साक्षी है कि पं. नेहरू कहने का अच्छा और सबसे सस्ता साधन है-पत्र। वह पत्र अधिक शक्तिशाली होसामाजिक, राजनैतिक, सांस्कृतिक, ऐतिहासिक, भौगोलिक आदि बातों की जानकारियाँ ने पत्रों के माध्यम से … Read more

sequence of tenses exercises

sequence of tenses exercises Sequence of Tenses के सम्बन्ध में नीचे दिए गए Important Rules को समझकर अपना concept clear करें। 1. यदि Principal Clause का Finite Verb Present या Future Tense में हो तो, Subordinate/Dependent Clause का Verb किसी भी Tense में हो सकता है; जैसे- Principal Clause Subordinate Clause Pratik says that she … Read more

question tags examples|question tags with answers

question tags examples|question tags with answers

question tags examples Question Tags का प्रयोग बोलचाल की भाषा (Colloquial) में अनौपचारिक (Informal) रूप में किया जाता है। इसका प्रयोग स्वतंत्र रूप से नहीं होताहै। यह किसी Sentence के अंत में प्रयोग किया जाता है। Questions पूर्ण वाक्य (Complete Sentence) होते हैं और इनका प्रयोग स्वतंत्र रूप से होता है, जबकि Question Tags केवल … Read more

Simple, Compound and Complex Sentence

Simple, Compound and Complex Sentence

Simple, Compound and Complex Sentence 1. Simple Sentence निम्नलिखित Sentences को समझें- 1. He is a singer 2. She reads a book. ऊपर दिए गए Sentences को समझने पर निम्नलिखित बातें मालूम होती हैं।- > दोनों Sentences में से प्रत्येक में केवल एक Subject और एक Finite Verb है | > दोनों Sentences में से … Read more

non finite verbs in hindi|non finite verbs exercises

non finite verbs in hindi|non finite verbs exercises

non finite verbs in hindi|non finite verbs exercises Non-finite Verbs तीन प्रकार के होते हैं, जिन्हें 1. Infinitive 2. Gerund और 3. Participle कहते हैं । इस chapter में हम इन तीनों का अध्ययन अलग-अलग विस्तारपूर्वक करेंगे। 1. Infinitive The infinitive is the base form of the verb which is usually but not always preceded … Read more

subject and predicate in hindi

subject and predicate

Subject and Predicate प्रत्येक Sentence के दो Parts होते हैं जिन्हें Subject और Predicate कहते हैं। 1. Subject: Subject is the word or group of words about which something is said in a सेंटेंस। Subject उस शब्द या शब्द-समूह को कहते हैं जिसके बारे में sentence में कुछ कहा जाता है। 2. Predicate: Predicate is … Read more

punctuation and capital letters with examples

punctuation and capital letters with examples

punctuation and capital letters with examples Grammar में Punctuation (विराम चिह्न) का बड़ा महत्व है। किसी Sentence या Passage में बिना Punctuation marks का प्रयोग किए अर्थ स्पष्ट नहीं होता। इन चिह्नों के प्रयोग से वाक्यों को पढ़ने, बोलने और उनके अर्थ समझने में सुविधा होती है। Punctuation mark : It is a sign or … Read more

types of sentences in hindi|kinds of sentences with examples

types of sentences in hindi

types of sentences in hindi|kinds of sentences with examples Sentences पाँच प्रकार के होते हैं। ये हैं : 1. Assertive/Statement/Declarative 2. Interrogative 3. Imperative 4. Optative 5. Exclamatory 1. Assertive/Statement/Declarative Sentence : When we need to give some facts or to describe events or things whether negative or positive, we use an assertive sentence. An … Read more

Spelling test free| English spelling test worksheets

Spelling test free|English spelling test worksheets Spelling

 Spelling test free|English spelling test worksheets Spelling के 12 Rules हैं- 1. यदि किसी शब्द के अंत में ‘Y’ हो और इसके पहले कोई consonant हो तो इस शब्द में कोई ending (प्रत्यय) के जुड़ने पर बने शब्द में Y की जगह I हो जाता है। जैसे- Cry + ed = cried happy + ness … Read more

तिङन्त-प्रकरण अर्थ |Tingant Meaning Sanskrit

तिङन्त-प्रकरण अर्थ

तिङन्त-प्रकरण अर्थ |Tingant MeaningSanskrit   क्रियावाचक प्रकृति को ‘धातु’ कहते हैं। जैसे-भू, स्था, गम्, हस् इत्यादि । ‘धातु’ के दस लकार होते हैं – 1. लट् लकार (Present tense) 2. लोट् लकार (Imperative mood) 3. लङ् लकार (Past ten1se) 4. विधिलिङ् (Potential mood) 5. लुट् लकार (First future or periphrastic) 6. लृट् लकार (IInd Future … Read more